Friday, July 14, 2017

ab to videshi mat kaho

विदेशियों की गुलामी करने वालो, अंग्रेजों का हुक्का भरने वालो ,उनकी जूतियों में पड़े रहने वालो  ,और अंग्रेजी राज में रायबहादुर की पदवी प्राप्त कर ऐश की जिंदगी व्यतीत करने वालो ,अब तो सोनिया जी को विदेशी महिला मत  कहो ,आप से ज्यादा देश भक्ति है उनमे ,और आपसे अच्छी हिंदी भी बोल लेती हैं ,देश की खातिर प्रधानमंत्री की कुर्सी को त्याग देने वाली शायद ही संसार की वो पहली महिला होंगी
वैसे भी हिन्दू रीति के अनुसार किसी भी धर्म की महिला यदि किसी दुसरे धर्म के व्यक्ति से शादी कर लेती है तो वो उसी धर्म की हो जाती है इस हिसाब से राजीव गाँधी से शादी करके वो भी हिन्दू हो गई ,फिर शिकवा किस बात का ,क्या मात्र राजनितिक रोटियां सेंकने के लिए |
लानत है ऐसे देसभक्तों पर जो किसी महिला को  सम्मान देना तो दूर की बात, उलटे उसके सम्मान को छीनने का प्रयत्न करते हैं जब की हिन्दू धर्म में कहा जाता है की "नारि त्वं सर्वं पूजयते "फिर चाहे वो समस्त भू पर किसी भी देश की ही नारी  क्योँ ना हो ,

No comments:

Post a Comment