Monday, June 27, 2016

janaja

हमने देखा
किसी का जनाजा
निकल रहा था
तो हमने पूछा
मियाँ ये जनाजा
किन साहब का है
तो विसने कहा
ये जनाजा
नवाब वसीउल्ला खां का है
तो हमने कहा कि
वो तो बड़े पैसे वाले थे
उनका तो सारे जहां में नाम था
तो वो बोला क्या मियाँ
पैसे वाले लोग नहीं मरते
नहीं वो क्योँ मरेंगे
वो तो पैसे से
सब कुछ खरीद सकते हैं
जिंदगियां खरीद लेते हैं
फिर क्या अपने लिए
एक जिंदगी ना खरीद सके

No comments:

Post a Comment